Triphala Powder के फायदे क्या है, जानिए पूरी जानकारी

इस तेजी से चलती जिन्दगी में अनियमित खान पान आम लोगों के लिए एक बड़ी परेशानी बन चुका है। वर्तमान समय में हर दूसरे व्यक्ति की एक ही समस्या है कब्ज।

ऐसे में इस कब्ज से छुटकारा पाने के लिए Thriphala Powder एक रामबाण औषधि है। लेकिन आखिर ऐसा क्या ही इस त्रिफला चूर्ण में जो इसे औषधीय  गुणों से भरपूर बताया गया है साथ ही इसके सेवन से अल्सर जैसी खतरनाक बीमारियों के ठीक होने की भी बात कही गई है।

हम अपने पिछले आर्टिकल में हमने आपको जानकारी दी थी कि Japani Tel का उपयोग कैसे करें। वहीं आज हम अपने आर्टिकल में आपको जानकारी देंगे कि Triphala Powder के फायदे क्या है।

Triphala Powder के फायदे क्या है, जानिए पूरी जानकारी
Triphala Powder के फायदे क्या है, जानिए पूरी जानकारी

Triphala Powder क्या है 

अगर आप त्रिफला चूर्ण के फायदे जानना चाहते है तो सबसे पहले आपको यह जानना होगा कि आखिर त्रिफला चूर्ण होता है।

तो आपको बता दे कि अपने नाम के अनुसार यह तीन फलो से मिलकर बना है, और यह तीन फल अपने आप में औषधीय गुणों वाले है। बता दे कि इन तीन फलों में बेहड़ा , हरड और आंवला शामिल है।

आयुर्वेद में ये तीनो फल क्रमशः विभीतक, हरितकी और अमलकी के नाम से जाने जाते है। त्रिफला पाउडर में इन तीनो अमृतीय गुणों से भरपूर औषधियों के बीज निकाल कर समान मात्रा में इनका चूर्ण बनाया जाता है। 

Triphala Powder क्या है
Triphala Powder क्या है 

ये भी पढ़िए

कैसे करें Kaunch ke Beej का सेवन , जानिए पूरी जानकारी

Global Warming क्या है, जानिए ग्लोबल वार्मिंग से बचाव के उपाय


Triphala Powder के फायदे 

जैसा कि हम आपको जानकारी दे चुके है कि त्रिफला चूर्ण अमृतीय गुणों से भरपूर है,ऐसे में इसके उपयोग के कई फायदे है।

जैसे इसके सेवन से पेट के अल्सर का उपचार किया जा सकता है। वहीं पेट में जमा गंदगी को साफ़ करने में भी त्रिफला चूर्ण काफी लाभकारी है।

कब्ज, एसिडिटी और पेट से जुडी सभी समस्याओं में भी त्रिफला चूर्ण का उपयोग बेहद लाभकारी है। तनाव और चिंता से ग्रस्त व्यक्ति भी इस चूर्ण का सेवन कर अपने बीमारी से मुक्ति पा सकता है। इसके और भी कई अन्य लाभ है आइये जानते है त्रिफला चूर्ण के फायदे।

Triphala Powder के फायदे
Triphala Powder के फायदे 

ब्लड शुगर में 

वर्तमान समय में एक बिमारी हर तीसरे व्यक्ति में देखी जाएगी, यह बिमारी है बल्ड शुगर की अनियमितता। कुछ लोग हाई बल्ड शुगर लेवल से परेशान है तो कुछ लोग लो ब्लड शुगर लेवल से।

ऐसे में अगर त्रिफला चूर्ण का सेवन नियमित रूप से किया जाए तो यह आपके बल्ड शुगर को कंट्रोल करने में काफी सहायक होगा। 

पेट से जुडी बीमारी में 

पेट दर्द से जुडी समस्या जैसे कब्ज, एसिडिटी और बदहाजमी की समाया से आज हर दूसरा व्यक्ति परेशान है। इसके पीछे का करने है अनियमित खान पान।

ऐसे में त्रिफला चूर्ण का सेवन न केवल आपको कब्ज, एसिडिटी और पेट से जुडी अन्य परेशानियों से छुटकारा दिलाने में सहायता प्रदान करेगा, बल्कि इसके नियमित सेवन से आप पेट के अल्सर जैसे खतरनाक रोग से भी छुटकारा पा सकते है।

त्रिफला चूर्ण शरीर में जमा गंदगी को साफ़ करने का काम करता है। जिससे आपके पेट के साथ आपकी मानसिक स्थिति भी ठीक रहती है। 


ये भी पढ़िए

औषधीय गुण से भरपूर है Arjun ki Chhal, जानिए अर्जुन की छाल के फायदे

Giloy का पौधा कैसे लगाएं, जानिए गिलोय के पौधे की पूरी जानकारी


चर्म रोग में 

अब तक हमने आपको जानकारी दी कि किस तरह पेट से जुडी बीमारियों के लिए त्रिफला चूर्ण एक रामबाण औषधि है।

उसी तरह चर्म रोग जैसे दाद, खाज, खुजली, फोड़े फुंसी और मुहांसे जैसी समस्याओं के इलाज में भी त्रिफला चूर्ण को बेहद प्रभावकारी माना गया है। अगर आप इस चूर्ण का नियमित सेवन करेंगे तो आपको कभी भी खुजली और दाद जैसी समस्या नहीं होगी। 

आँखों की समस्याओं में 

त्रिफला चूर्ण केवल चर्म रोग और पेट से जुडी समस्याओं में ही लाभकारी नहीं है बल्कि इसके उपयोग से आप नेत्रों से जुडी समस्या को भी दूर कर सकते है।

अगर आप इसको पानी में डालकर आपनी आँखे धोयेंगे तो आपके आँखों से जुडी परेशानी जैसे आँखों में जलन, मोतियाबिंद और आँखों के दोष जैसी समस्या दूर होगी।

इसके साथ ही अगर आप अपनी आँखों की रोशनी को लम्बे समय तक बढाए रखना चाहते है तो भी आप त्रिफला चूर्ण का इस्तेमाल कर सकते है। 

अन्य रोगों में 

त्रिफला चूर्ण पेट के साथ साथ अन्य कई रोगों के लिए लाभकारी माना गया है, जैसे मसूड़ों की सुजन, दांतों के इन्फेक्शन, फंगल इन्फेक्शन आदि।

इसके साथ ही इसमें पाए जाने वाले एंटीओक्सिडेंट कई बीमारियों को दूर करने में भी लाभकारी है। यह चूर्ण बालों के झड़ने, उनकी लंबाई बढ़ाने और उन्हें काला रखने के भी काम आता है।

यह चूर्ण एंटीएजिंग औषधि के रूप में भी कार्य करता है और आपको त्वचा को झुर्रीयों आदि से बचाता है।  


ये भी पढ़िए

Haemoglobin की कमी को कैसे दूर करें, जानिए पूरी जानकारी

पहली Kiss को कैसे बनाए यादगार, जानिए हिंदी में पूरी जानकारी


Triphala Powder का सेवन करने कि विधि 

  1. आपको सबसे पहले सुबह उठकर खाली पेट पानी सके साथ में त्रिफला पाउडर का सेवन करना है।
  2. आप चाहे तो त्रिफला को पानी में भिगो कर, उसे उबालकर, पानी को छानकर भी इसका सेवन कर सकते है।
  3. आप मौसम के हिसाब से त्रिफला में गुड़म सेंध नमक, शहद और सोंठ का चूर्ण मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं। 
  4. रात में सोने से पहले त्रिफला चूर्ण को गुनगुने पाने के साथ लेना काफी फायदेमंद होता है। 
Triphala Powder का सेवन करने कि विधि
Triphala Powder का सेवन करने कि विधि 

उम्मीद है आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा तथा आप जान गए होंगे कि Triphala Powder के क्या फायदे हैं। 


ये भी पढ़िए

  1. Unwanted Pregnancy से बचने के लिए क्या करें, जानिए पूरी जानकारी
  2. Surya Namaskar कैसे करें, जानिए पूरी जानकारी
  3. Pregnancy Test कैसे करें, जानिए हिंदी में पूरी जानकारी
  4. Love Making क्या है तथा इसे कैसे करें, जानिए हिंदी में पूरी जानकारी
  5. Liv 52 Syrup कैसे इस्तेमाल करें, जानिए हिंदी में पूरी जानकारी

FAQ

Triphala Powder किन तीन फलो से मिलकर बना है?

Triphala Powder बेहड़ा , हरड और आंवला से मिलकर बना है। 

Triphala Powder के फायदे क्या है?

Triphala Powder पेट के अल्सर, कब्ज, एसिडिटी में राहत दिलाने के साथ चर्म रोग में भी काफी लाभकारी होता है। 

Spread the love

Leave a Comment