Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में

By | September 29, 2021

सौम्य अल्सर और सक्रिय ग्रहणी अल्सर वर्तमान समय में एक बेहद ही आम बीमारी बन चुके है। ऐसे में इस बीमारी के उपचार के लिए बाजार में उपलब्ध दवाओं में Rantac 150 MG Tablet एक बेहतरीन विकल्प है।

यह टैबलेट हिस्टामाइन (एच2) रिसेप्टर ब्लॉकर के रूप में जाने वाले दवा समूह से संबंधित है। जहां हम अपने पिछले आर्टिकल Lariago 250 MG Tablet Uses In Hindi में आपको Lariago 250 MG Tablet के उपयोग के विषय में जानकारी दे चुके है।

वहीं आज हम अपने आर्टिकल में आपको जानकारी देंगे कि Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi क्या है। 

Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में
Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में

Rantac 150 MG Tablet क्या है

जेबी केमिकल्स (Jb Chemicals) द्वारा Manufacturer की गई रैनटेक 150 एमजी टैबलेट एक ऐसे दवा समूह से संबंधित है, जिसे हिस्टामाइन (H2) रिसेप्टर ब्लॉकर के रूप में पहचाना जाता है।

अगर बात करें इस टैबलेट के Medicine composition की तो, इस टैबलेट में  रेनिटिडिन (Ranitidine) के सक्रिय तत्व मौजूद है।

यह मुख्य रूप से सक्रिय ग्रहणी अल्सर और सौम्य गैस्ट्रिक अल्सर के अल्पकालिक इलाज के लिए निर्धारित की गई है। लेकिन इस टैबलेट का उपयोग केवल डॉक्टर के परामर्श पर ही किया जाना चाहिए। 

Rantac 150 MG Tablet क्या है
Rantac 150 MG Tablet क्या है

Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi

रेनिटिडिन (Ranitidine) के सक्रिय तत्व वाली रैनटेक 150 एमजी टैबलेट का उपयोग मुख्य रूप से सक्रिय ग्रहणी अल्सर और सौम्य गैस्ट्रिक अल्सर के अल्पकालिक उपचार के लिए किया जाता है।

वहीं इस टैबलेट का इस्तेमाल आवर्तक पोस्टऑपरेटिव अल्सर, सर्जरी के दौरान एसिड-एस्पिरेशन न्यूमोनाइटिस, तनाव-प्रेरित अल्सर, ज़ोलिंगर-एलिसन सिंड्रोम, गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (जीईआरडी), और ऊपरी जीआई रक्तस्राव अल्सर आदि के उपचार में भी किया जाता है।

लेकिन इस टैबलेट का उपयोग केवल डॉक्टर के परामर्श पर ही किया जाना चाहिए। साथ ही गर्भवती महिलाओं, छोटे बच्चों, अन्य बीमारियों से पीड़ित व्यक्तियों और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस टैबलेट के सेवन से बचना चाहिए। 

रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के उपयोग 

Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi
सक्रिय ग्रहणी अल्सर  सौम्य गैस्ट्रिक अल्सर
आवर्तक पोस्टऑपरेटिव अल्सरसर्जरी के दौरान एसिड-एस्पिरेशन न्यूमोनाइटिस
तनाव-प्रेरित अल्सरज़ोलिंगर-एलिसन सिंड्रोम
गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (जीईआरडी)ऊपरी जीआई रक्तस्राव अल्सर
Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi
Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi

Rantac 150 MG Tablet के विकल्प 

अगर आप किसी कारणवश इस दवा का उपयोग नहीं कर पा रहे है, तो आप इसके विकल्प को भी उपयोग में ला सकते है।

हर दवा के कुछ ना कुछ विकल्प होते है बस उसमें मौजूद सक्रिय तत्व में कोई परिवर्तन नहीं होता। आइये जानते है रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के विकल्प के बारे में।

Tablet Manufacturer
अंटेक 150 एमजी टैबलेट (Antec 150 MG Tablet)एबॉट हेल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड (Abbott Healthcare Pvt. Ltd)
ज़ोरान 150 एमजी टैबलेट (Zoran 150 MG Tablet)डा. रेड्डीज़ लेबोरेटरीज लिमिटेड (Dr. Reddys Laboratories Ltd)
एच 2 एलओसी 150 एमजी टैब्लेट (H2Loc 150 MG Tablet)टॉरेंट फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड (Torrent Pharmaceuticals Ltd)
प्लाक्सीड 0.25 एमजी टैबलेट (Plaxid 0.25 MG Tablet)मानेष फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड (Maneesh Pharmaceuticals Ltd)
Rantac 150 MG Tablet के विकल्प
Rantac 150 MG Tablet के विकल्प

Rantac 150 MG Tablet कैसे काम करती है

जैसा कि हम आपको जानकारी दे चुके है कि रैनटेक 150 एमजी टैबलेट में रेनिटिडिन (Ranitidine) के सक्रिय तत्व मौजूद है। ऐसे में यह टैबलेट गैस्ट्रिक परिएटल सेल्स में मौजूद विशिष्ट H2 रिसेप्टर्स में हिस्टामाइन की कार्यवाही को रोककर अपना कार्य करती है। 

इस तरह गैस्ट्रिक एसिड स्त्राव की प्रकिया बाधित हो जाती है। अपने इन्ही गुणों के चलते यह टैबलेट सक्रिय ग्रहणी अल्सर और सौम्य गैस्ट्रिक अल्सर के उपचार में उपयोग में लायी जाती है। ध्यान रहे कि इस टैबलेट का उपयोग केवल चिकित्सक के परामर्श पर ही किया जाना चाहिए। 

Rantac 150 MG Tablet कैसे काम करती है
Rantac 150 MG Tablet कैसे काम करती है

Rantac 150 MG Tablet के साइड इफेक्ट 

हर दवा की तरह Rantac 150 MG Tablet के भी कुछ साइड इफेक्ट है जैसे सिरदर्द, चक्कर आना, मत्तली, उल्टी, सांस लेने में परेशानी, रैश, दस्त, गाइनेकोमेस्टिया, मानसिक भ्रम की स्थिति, अर्थ्राल्जिया, फीवर, बेहोश करने की क्रिया आदि।

बताए गए साइड इफेक्ट इस दवा के कुछ सामान्य साइड इफेक्ट है, जो कुछ समय बाद अपने आप ठीक हो जाते है। लेकिन अगर बताए गए साइड इफेक्ट कुछ समय में ठीक ना हो तो आपको तुंरत ही डॉक्टर से संपर्क करने की आवश्यकता है।

इसके साथ ही इस दवा के सेवन से गर्भवती महिला, छोटे बच्चों और अन्य बीमारियों से पीड़ित व्यक्तियों को बचना चाहिए। 

रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के साइड इफेक्ट 

रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के साइड इफेक्ट  रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के साइड इफेक्ट 
सिरदर्द चक्कर आना
मत्तलीउल्टी
सांस लेने में परेशानीरैश
दस्तगाइनेकोमेस्टिया
मानसिक भ्रम की स्थितिअर्थ्राल्जिया
फीवरबेहोश करने की क्रिया
Rantac 150 MG Tablet के साइड इफेक्ट 
Rantac 150 MG Tablet के साइड इफेक्ट 

Rantac 150 MG Tablet का अन्य दवा और पदार्थो के साथ में इंटरैक्शन 

हर दवा का किसी अन्य पदार्थों या दवाओं के साथ में कुछ नकारात्मक इंटरैक्शन होते है।

जब कभी हम किसी एक दवा के साथ में कई अन्य दवाओं का उपयोग करते है या फिर किसी खाद्य या पेय पदार्थों के साथ में किस अन्य दवा को उपयोग में लाते है, तो हमें कभी कभी इसके गंभीर परिणामों का सामना करना पड़ सकता है।

आइये जानते है रैनटेक 150 एमजी टैबलेट का अन्य दवा और पदार्थों के साथ इंटरैक्शन- 

Rantac 150 MG Tablet का अन्य दवा और पदार्थो के साथ में इंटरैक्शन 
Rantac 150 MG Tablet का अन्य दवा और पदार्थो के साथ में इंटरैक्शन 

शराब के साथ 

रैनटेक 150 एमजी टैबलेट शराब के साथ के साथ में इंटरैक्शन करती है। अगर आप शराब के साथ में इस टैबलेट का सेवन करते है, तो आपको हर्ट बर्न, उल्टी, मल में रक्त की उपस्थिति आदि हो सकती है। ऐसे में आप अपने डॉक्टर से परामर्श कर सकते है। 

लैब टेस्ट के साथ 

यह टैबलेट लैब टैब के साथ प्रतिक्रिया करती है। रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के उपयोग से फॉल्स-पॉजिटिव यूरीन प्रोटीन, त्वचा परीक्षण एलर्जीन अर्क, गैस्ट्रिक एसिड स्राव परीक्षण, मूत्र प्रोटीन परीक्षण, सीरम क्रिएटिनिन और सीरम ट्रांसएमिनेज़ सांद्रता दिखाई दे सकते हैं। ऐसे में आप अगर बताए गए लैब टेस्ट कराने जा रहे है तो अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य लें। 

दवाओं के साथ 

रैनटेक 150 एमजी टैबलेट पाजोपानिब, दासतिनिब,  मेटफोर्मिन, लोपरामाइड, केटोकोनाज़ोल और एतज़ानाइर आदि के साथ में इंटरैक्शन करती है। ऐसे में अगर आप बताई गई दवाओं का सेवन कर रहे है तो आप रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के उपयोग से बचें।  

भोजन के साथ 

यह टैबलेट किसी भी खाद्य पदार्थ के साथ में प्रतिक्रिया नहीं करती है। लेकिन फिर भी आप चाहे तो अपने चिकित्सक से अपने भोजन से जुडी सलाह ले सकते है। 

रोग के साथ 

क्रोनिक हार्टबर्न, विटामिन की कमी, किडनी रोग, निमोनिया और फेनिलकेटोनुरिया जैसी बीमारियों से पीड़ित व्यक्ति को रैनटेक 150 एमजी टैबलेट के सेवन से बचना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते है। 

उम्मीद है आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा तथा आप जान गए होंगे कि Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi क्या है। 


ये भी पढ़िए

  1. Aldigesic P 100 Mg/500 Mg Tablet Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में
  2. Flucan 150 MG Tablet Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में
  3. Levofloxacin 500 MG Tablet Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में
  4. Pantop-D SR Capsule Uses In Hindi, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में

FAQ

Rantac 150 MG Tablet के Manufacturer कौन है?

Rantac 150 MG Tablet के Manufacturer जेबी केमिकल्स (Jb Chemicals) है। 

Rantac 150 MG Tablet का Medicine composition क्या है?

Rantac 150 MG Tablet में रेनिटिडिन (Ranitidine) के सक्रिय तत्व मौजूद है। 

Rantac 150 MG Tablet Uses In Hindi क्या है?

रैनटेक 150 एमजी टैबलेट का उपयोग मुख्य रूप से सक्रिय ग्रहणी अल्सर और सौम्य गैस्ट्रिक अल्सर के अल्पकालिक उपचार के लिए किया जाता है। 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *