NCR क्या है तथा इसके फायदे क्या है, जानिए पूरी जानकारी

By | August 24, 2021

आज हम अपने आर्टिकल में आपको NCR के बारे में बताने जा रहे है। अपने अक्सर NCR के बारे में सुना होगा। लेकिन आपके मन में यही विचार आता होगा कि आखिर यह होता है क्या और इसका मतलब क्या होता है एवं इसके फायदे क्या क्या है।

तो आपको बता दे कि NCR के अंतर्गत कुछ ख़ास शहर या जिले आते है। एनसीआर के अंतर्गत आने वाले शहरों में विकास अन्य शहरों की तुलना में अधिक होता है। अधिक से हमारा तात्पर्य है, सरकार द्वारा कोई भी बनाई गई योजना सबसे पहले NCR के अंतर्गत आने वाले जिलो और शहरों में ही लागू होती है।

हालांकि कई लोग इसका फुल फॉर्म भी नहीं जानते कि आखिर एनसीआर का मतलब क्या होता है। कई बार प्रतियोगी परीक्षाओं में भी एनसीआर से जुड़े प्रश्न आ जाते है, लेकिन इसके विषय में जानकारी न होने से अक्सर जवाब गलत हो जाते है। तो ऐसे में हम आपको बताएंगे कि NCR क्या होता है। 

NCR क्या है तथा इसके फायदे क्या है, जानिए पूरी जानकारी
NCR क्या है तथा इसके फायदे क्या है, जानिए पूरी जानकारी

NCR का फुल फॉर्म क्या होता है 

एनसीआर के बारे में जानने से पहले आपको एनसीआर का फुल फॉर्म जानने की जरुरत है। आपको जानकारी के लिए बता दे कि NCR का फुल फॉर्म होता है National Capital Region। हिंदी में इसका अर्थ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र होता है। जैसा कि आप सभी जानते है भारत की राजधानी दिल्ली है।

ऐसे में दिल्ली के आस पास के कुछ शहर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आते है। बता दे कि भारतीय संविधान के 69वें अमेंडमेंट एक्ट 1991 के तहत भारत की राजधानी और दिल्ली से सटे कुछ इलाकों को मिलकर एक NCR जोन बनाया गया है। इस जोन के अंतर्गत दिल्ली के शहरों के साथ राजस्थान और हरियाणा के कुछ शहर भी आते है। 

NCR का फुल फॉर्म क्या होता है
NCR का फुल फॉर्म क्या होता है 

Delhi NCR क्या है

हमने अपने आर्टिकल में आपको बताया कि एनसीआर का मतलब राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र होता है, ऐसे में दिल्ली में और दिल्ली एनसीआर के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में अन्य राज्य व क्षेत्रों की तुलना में ज्यादा विकास होता है। इसी के चलते भारत के अन्य राज्यों से भारी मात्रा में लोग नौकरी धंधा करने दिल्ली आते है।

बता दे कि सरकार द्वारा 1985 में नेशनल केपिटल रिजन प्लानिंग बोर्ड की शुरुआत की गई थी। हालांकि दिल्ली में लोगो की बढती आबादी के चलते वहां के स्थाई निवासियों को भी कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जिनमें, आवास, पानी और बिजली मुख्य समस्या है। 

Delhi NCR क्या है
Delhi NCR क्या है

ये भी पढ़िए

दुनिया के टॉप 10 Best Games कौन से है, जानिए पूरी जानकारी


NCR में आने वाले क्षेत्र 

बता दे कि NCR में दिल्ली के साथ काई सारे अलग-अलग क्षेत्र आते है। अगर बात की जाए एनसीआर में आने वाले शहरों की तो कुल 22 शहर व जिले delhi NCR में आते है। हमने नीचें दी हुई टेबल के माध्यम से इन शहरों व जिलों के नाम बताए है। 

NCR क्षेत्र एनसीआर क्षेत्र NCR क्षेत्र एनसीआर क्षेत्र 
दिल्ली गाज़ियाबाद महैंन्द्रगढ़भिवानी 
भरतपुर गौतमबुद्ध नगर बागपत जिंद 
हापुड़ बुलंदशहर फ़रीदाबाद करनाल 
गुड़गाँव सोनीपत रोहतक 
मेवात रेवाड़ी झाझर 
अलवर पलवल पानीपत 

NCR का उद्देश्य 

दिल्ली भारत की राजधानी है, ऐसे में किसी भी देश की राजधानी का विकसित होना अनिवार्य है। Delhi NCR के वैसे तो कई सारे भिन्न-भिन्न उद्देश्य है। लेकिन इसका मुख्य उद्देश्य दिल्ली और उसके समीपवर्ती क्षेत्रों का विकास करना है। 

NCR का उद्देश्य 

उम्मीद है आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा तथा आप जान गए होंगे की NCR क्या है तथा यह कैसे बनता है।  


ये भी पढ़िए

  1. Mobile में Hindi Typing कैसे करे, जानिए पूरी जानकारी
  2. Gold असली है या नकली इसकी पहचान कैसे करे, जानिए पूरी जानकारी
  3. महज कुछ दिनों में अपनी Height कैसे बढ़ाये, जानिए पूरी जानकारी

FAQ

दिल्ली भारत की राजधानी कब बनी थी?

दिल्ली से पहले कलकत्ता (अब कोलकाता) भारत की राजधानी थी। जिसके बाद 13 फरवरी 1931 को दिल्ली को आधिकारिक रूप से भारत की राजधानी घोषित किया गया।  

नेशनल केपिटल रिजन (NCR) प्लानिंग बोर्ड की शुरुआत कब हुई?

भारत सरकार द्वारा 1985 में नेशनल केपिटल रिजन (NCR) प्लानिंग बोर्ड की शुरुआत की गई थी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *