भारत की जनसंख्या कितनी है 2021 में

By | August 24, 2021

भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। आज हर क्षेत्र में भारत आगे है। दुनिया में बात क्षेत्रफल की हो या फिर जनसंख्या की, भारत का नाम हर लिस्ट में आता है।

क्षेत्रफल के हिसाब से विश्व का सातवां सबसे बड़ा देश भारत जनसंख्या की दृष्टि से विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है। लेकिन अगर जनसंख्या वृद्धि की दर से अनुमान लगाया जाए तो, India जल्द ही विश्व में जनसंख्या में पहले स्थान पर मौजूद चीन को पछाड़ देगा। ऐसे में आज हम आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे है कि 2021 में भारत की जनसंख्या कितनी है। 

2021 में भारत की जनसंख्या कितनी है
2021 में भारत की जनसंख्या कितनी है

India की जनसंख्या 

हर सैंकंड में भारत की आबादी परिवर्तित हो रही है, ऐसे में India की आबादी का सटीक रूप से पता लगाना और उसे बताना काफी मुश्किल है। लेकिन इंटरनेट पर मौजूद कई वेबसाइट विश्व की जनसंख्या की लगातार गिनती कर रही है।

ऐसे में भारत की जनसंख्या कितनी है इसका पता इन्ही वेबसाइट से प्राप्त आकंड़ो के आधार पर लगाया जा सकता है। एक चर्चित वेबसाइट वर्ल्ड मीटर के अनुसार वर्तमान में भारत की आबादी 136 करोड़ के लगभग है।

हालांकि भारत की प्रति दस साल बढ़ने वाली आबादी की दर में पिछले ज्ञात आंकड़ों की तुलना में कमी देखी गई है। दल साल पहले भारत की आबादी 21.54 फीसदी की दर से बढ़ रही थी, जो वर्तमान में 17.64 की दर से बढ़ रही है। 


ये भी पढ़िए

जनसंख्या, क्षेत्रफल और अर्थव्यवस्था के आधार पर दुनिया के सबसे बड़े देशों की लिस्ट


भारत और अन्य देश 

भारत वर्तमान में विश्व में जनसंख्या की दृष्टि से दूसरे स्थान पर मौजूद है। वहीं पहले स्थान पर इस लिस्ट में चीन का नाम आता है। चीन की वर्तमान आबादी 142 करोड़ है। लेकिन चीन ने अपनी बढती आबादी पर काफी हद तक कंट्रोल किया है।

हाल ही में मिले आकड़ों की माने तो भारत की आबादी चीन की तुलना में दोगुना वार्षिक दर से बढ़ रही है। वह दिन दूर नहीं है जब India जनसंख्या के मामले में चीन को पीछे छोड़ देगा। ऐसे में भारत को भी आवश्यकता है कि वह अपनी जनसंख्या पर काबू पाने का प्रयास करे। नीचे दी गई तालीका में भारत और उसके कुछ पड़ोसी देशो की जनसंख्या दी गई है।

जनसंख्या की दृष्टि से विश्व के 10 देश  

देश स्थान जनसंख्या
चीन 142 करोड़ 
भारत 2136 करोड़ 
संयुक्त राज्य अमेरिका 334 करोड़ 
इंडोनेशिया 423 करोड़
पाकिस्तान 522 करोड़ 
ब्राजील621 करोड़ 
बांग्लादेश 716 करोड़ 
नाइजीरिया 815 करोड़ 
रूस 914 करोड़ 
मेक्सिको 1012 करोड़ 

भारत में जनसंख्या की गणना 

अगर किसी देश की जनसंख्या की सटीक जानकारी ज्ञात करना होती है तो वह, जनगणना के आधार पर ही हो सकता है।

India में भी जनसंख्या के बारे में सटीक जानकारी प्राप्त करने के लिए हर दस साल में जनगणना की जाती है। यह जनगणना भारत सरकार के द्वारा की जाती है। जनगणना के माध्यम से ही सरकार देश की जनता के लिए भविष्य की योजनाओं का निर्धारण करती है। 

जनसंख्या नियंत्रण पर लोगों के विचार 

किसी भी देश के लिए उसकी जनसंख्या का बढ़ना खतरे की घंटी हो सकता है, क्योंकि देश में रहने और खाने के सीमित साधन होते है। बढती जनसंख्या उन साधनों की तेजी से कमी का कारण भी होती है।

हालांकि भारत में शहरों में रहने वाले लोग जनसंख्या नियंत्रण को लेकर जागरूक है, लेकिन ग्रामीण इलाकों में इसके प्रति जागरूकता नहीं है। जिसके चलते India की जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है। क्योंकि सभी जानते है कि भारत की ज्यादातर आबादी गांवो में ही रहती है।

हालांकि बीते कुछ समय में भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे जागरूकता अभियान से लोगों को जनसंख्या विस्फोट  के बारे में काफी कुछ जानने को मिला है। ऐसे में सरकार अगर इसी दिशा में और प्रयास करे तो जनसंख्या पर काबू पाया जा सकता है।

  

हमारा विचार 

जैसा कि हमने आपको अपने आर्टिकल में बताया कि बढती जनसंख्या के कई दुष्परिणाम भी हो सकते है। वर्तमान में भारत क्षेत्रफल की दृष्टि से 7 वे स्थान पर है। भारत का कुल क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग कि. मी. है।

ऐसे में अगर जनसंख्या इसी तरह से बढती रही तो India में उपलब्ध रहने और खाने के संसाधनों की कमी हो जाएगी। जिसके फल स्वरूप गरीबी और बेरोज़गारी लगातार बढती जाएगी। उम्मीद है कि आपको यह जानकारी मिल गई होगी की 2021 में भारत की जनसंख्या कितनी है। 


ये भी पढ़िए

  1. KBC 2021 में कैसे करे Registration, जानिए पूरा तरीका
  2. जानिए CID और CBI क्या है तथा दोनों के बीच में क्या अंतर होता है
  3. Mankading क्या है, क्रिकेट में इससे जुड़े नियम को जानिए
  4. भारतीय Mobile कंपनियां कौन-कौन सी है, देखिए 2021 की लिस्ट

FAQ

India में जनगणना कितने सालो में होती है?

India में जनगणना भारत सरकार के द्वारा हर दस साल में की जाती है। जनगणना के माध्यम से ही सरकार देश की जनता के लिए भविष्य की योजनाओं का निर्धारण करती है। 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *